most-important-things-to-know-before-ias-exam-preparation

UPSC के चैयरमेन ने कही 7 महत्वपूर्ण बातें IAS Exam की तैयारी से पहले

Uncategorized

IAS कि परीक्षा को पास करने के लिए प्रत्येक अभ्यार्थी को मार्गदर्शन की जरुरत होती है। 18 दिसम्बर 2013 को तिरुवनंतपुरम मे स्थित Kerala State Civil Service Academy मे आयोजित एक समारोह के दौरान UPSC के अध्यक्ष श्री D P Agarwal ने उन अभ्यार्थियों को महत्वपुर्ण Tips दिये जो सीविल सर्विसेस की तैयारी कर रहे है।

UPSC के चैयरमेन ने कही 7 महत्वपूर्ण बातें IAS Exam की तैयारी से पहले :-

  1. सिविल सर्विसेज जॉब मे जाने से पहले जरुरी है, उसके लिए खुद को तैयार करना | जिसकी शुरुआत हम हमारी भाषा, संस्कृति एवं समाज का सम्मान करके कर सकते हैं ।
  2. आदतों को बदलना मुश्किल होता है जिससे काफी परेशानी होती है जैसे अगर किसी अभ्यार्थी को सिर्फ एक ही समाचार पत्र पढ़ने की आदत है तो उसे यह आदत बदल कर लगभग सारे समाचार पत्र पढ़ने की आदत डालने होती है जिससे हर तरह के मुद्दों तक अभ्यार्थी की पहुंच हो जाये।
  3. अगर कोई अभ्यार्थी किसी कौचिंग कॉलेज के माध्यम से तैयारी कर रहा हो तो वहाँ सिर्फ विषयों को रटने मे ज्यादा जोर दिया जाता है न की समझाने मे। अभ्यर्थियों को आवश्यकता अनुरूप  प्रत्येक विषय को गहरायी से  पढ़ना एवं समझना चाहिये।
  4. 70% ऐसे अभ्यार्थी जो विज्ञान एवं इंजीनियरिंग से ग्रेजुएशन करके IAS की परीक्षा की तैयारी कर रहे है वह विषय को गहरायी से पढ़ने मे परेशान हो जाते है एवं अलग अलग तरीके से विषय को पढ़ते है। इस स्तिथि मे एक उमीदवार तो सिर्फ परिधिये ज्ञान को हासिल करता है अच्छे अंक लाने के लिए एवं दूसरा उमीदवार जो है वह विषय को गहरायी से पढता है अगर  उमीदवार को सम्पूर्ण दुनिया की जानकारी को इक्क्ठा करना है तो वह पहले गावँ, शहर, राज्य ओर फिर देश के बारे मे पढता है। उमीदवार को उन मुद्दों मे भी रूचि लेनी होती है जहाँ वह रहता है।
  5. UPSC के अध्यक्ष ने सभी आरोपों को ख़ारिज करते हुए यह कहा है UPSC की परीक्षा मे अब भाषा के आधार पर एग्जाम पेपर को चुनने की आजादी है। क्योकि 8th संविधान सांसोधन के अनुसार प्रत्येक भाषा को सम्मान देना आवश्यक है।
  6. इंटरव्यू के दौरान श्री D P Agarwal ने  बताया की UPSC के पेपर को अलग अलग भाषा मे अनुवाद करने के लिए के लिए भाषा अनुवादक साथ रहेंगे । इसके लिये उन्होंने संसद भवन मे से लोग निर्धारित किये है जो परीक्षा पेपर को अलग अलग भाषा मे अनुवाद करेंगें।
    और उन्होंने यह भी बताया की अगर पेपर की भाषा के अनुवाद को लेकर किसी भी तरह की त्रुटि या परेसानी होती हैं तो उस अभ्यर्थी को निलम्बित कर दिया जायेगा।
  7. आगे इंटरव्यू मे श्री D P Agarwal नै उमीदवारो को Interview से जुडी महत्वपूर्ण जानकारी यह दी है की Interview के दौरान उमीदवार से पूछे जाने वाले प्रश्नो से यह तय नहीं किया जियेगा की वह किस विषय मे कितना ज्यादा अनुभवी है बल्कि यह जानने से है की उमीदवार ने बीते कुछ सालों मे क्या सीखा और उसे वह अभी तक याद है या नहीं।
    अगर उमीदवार  बीते सालो मे पढ़े हुऐ को याद नहीं रख पाता है तो यह स्वीकार्य नहीं हैं।
  8. इंटरव्यू मे उमीदवार से सरल प्रश्न भी पूछे जाते है जिसका जवाब उमीदवार को दिल से एवं पूरी ईमानदारी से देना होता हैं। उमीदवारो को जब उनकी आदतों के बारे मे पूछा जाता है तब वह ख़ास कर झूट बोलते है और अपनी आदते बढ़ा चढ़ा कर बताते है जो उनके लिए परेशानी का कारण बन सकती है।
    इंटरव्यू के दौरान अपने आप को समझना एवं पूरी ईमानदारी से पूछे जा रहे प्रश्नो के उत्तर देना होता है। आपकी वह विषेशता जो आपको बाकी लोगो से अलग करती है सिर्फ वही आपकी मदद कर सकती है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *