importance-of-upsc-civil-services-ias-exam-previous-years-papers

क्यों UPSC Civil Services के पुराने प्रश्नपत्रों को हल करना इतना महत्वपुर्ण है !

Uncategorized

निरंतर अभ्यास ही मनुष्य को सम्पुर्ण बनता है। यह बात सत्य है की निरंन्तर अभ्यास से ही अभ्यार्थी किसी भी तरह की परीक्षा मे नियंत्रण ग्रहण कर सकता है। परीक्षा की तैयारी करने के लिए पिछले साल के पेपर को हल करना बहूत जरुरी है।

प्रारम्भिक और मुख्य परीक्षा को अच्छे से लिखने के लिए यह पुराने प्रश्नपत्र बहुत ही बहरोसेमंद एवं विश्वसनीय सूचनाओं के श्रोत होते है। किसी भी अभ्यार्थी को पुराने प्रश्नपत्र एवं सेम्पल पेपर्स की महत्वता को अनदेखा नहीं करना चाहिये।


पुराने IAS परीक्षा के प्रश्नपत्र किस तरह अभ्यार्थियों की मदद कर सकते है :-

पुराने प्रश्नपत्रों को हल करने से अभ्यार्थियों की सोचने व समझने की कौशल सकती का विकास होता है ओर स्वयं का मुल्यांकन करके अभ्यार्थी अपनी परीक्षा की तैयारी का समय और गति को भी व्यवस्थित कर सकता है।

अभ्यार्थियों द्वारा चीजों का कम समझना और कम याद रख पाना, सिविल सर्विस की परीक्षा मे बाधा का कारण बन सकते है। इस समस्या से निपटनें के लिए अभ्यार्थियों को सैंपल पेपर्स को गहनता से पढ़ना होगा एवं उनसे निकटता बनानी होगी।

तो इस तरह से अभ्यार्थियों को समझ मे आ गया होगा की क्यों सेलेक्टिव और पुराने प्रश्नपत्रो को अनदेखा नहीं करना चाहिए।

ज्यादा से ज्यादा पुराने प्रश्नपत्रों को हल करने से अभ्यार्थियों को अपने Revision करने मे भी मदद मिलती है। प्रत्येक अभ्यार्थीयों को हमेशा यह सलाह दी जाती है की जब भी वह अपनी परीक्षा से जुड़ी तैयारी पूर्ण कर चुके हो, तो उसके बाद उन्हें पुराने प्रश्न पत्रों को भी हल करना चाहिए। जिससे परीक्षा की तैयारी के आखिर चरण मे भी अभ्यार्थी अपने स्वयं का प्रदर्शन, कार्य और अपनी कमियों का मुल्यांकन कर सकते है।

जब अभ्यार्थी पुराने प्रश्नपत्रों को हल कर रहा होता है तो वह इस बात को भी महसूस करता है की प्रत्येक परीक्षा मे पूछे जा रहे प्रश्न पुराने प्रश्नो को नया रूप देकर एवं नए तरीके से व्यवस्थित करके ही पूछे जा रहे होते है। अभ्यार्थियों को पुराने प्रश्नपत्रों को हल करना ही चहिए और देखना चाहिए की यह कितने ज़्यादा मदद्गार साबित होते है।

अभ्यार्थियों के लिए हमेशा अच्छा रहता है की वह स्वयं का मुल्यांकन करते रहे एवं यह पता लगते रहे की उसका प्रदर्शन केसा है और कॉन्सेप्ट्स को वह कितने अच्छे तरीक़े से समझ पा रहे है।

वह अभ्यार्थियों जो सिविल सर्विस परीक्षा मे सफ़लता पाने की इच्छा रखते है तो ऐसे अभ्यर्थियों को आगे बढ़कर ज़्यादा से ज़्यादा संख्या मे सिविल सर्विस के प्रारम्भिक और मुख्य परीक्षा के पुराने प्रश्नपत्रों को हल करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *